प्रधानमंत्री ने वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया

0
103

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज हरियाणा के गुरुग्राम स्‍थित सुल्‍तानपुर में कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) वेस्‍टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे के कुंडली-मानेसर खंड का उद्घाटन किया। उन्‍होंने बल्‍लभगढ़-मुजेसर मेट्रो लिंक का भी उद्घाटन किया और इसके साथ ही उन्‍होंने श्री विश्‍वकर्मा कौशल विश्‍वविद्यालय की आधारशिला रखी।
प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि एक्‍सप्रेसवे और मेट्रो कनेक्‍टिविटी से हरियाणा में परिवहन के क्षेत्र में क्रांति का सूत्रपात होगा। उन्‍होंने कहा कि श्री विश्‍वकर्मा कौशल विश्‍वविद्यालय से इस क्षेत्र के युवा बड़े पैमाने पर लाभान्‍वित होंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि केन्‍द्र सरकार ने यह सुनिश्‍चित किया था कि केएमपी एक्‍सप्रेसवे परियोजना का निर्माण कार्य प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जाए। उन्‍होंने कहा कि एक्‍सप्रेसवे दिल्‍ली और इसके आसपास के क्षेत्रों में प्रदूषण कम करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएगा। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि इससे जीविका में आसानी (ईज ऑफ लिविंग) सुनिश्‍चित होगी और इसके साथ ही पर्यावरण अनुकूल माहौल में आवाजाही करना संभव होगा।
प्रधानमंत्री ने परिवहन के जरिए कनेक्‍टिविटी की अहमियत पर विशेष जोर देते हुए कहा कि यह समृद्धि, सशक्‍तिकरण और सुगम्‍यता का एक माध्‍यम है। उन्‍होंने कहा कि फिलहाल बनाए जा रहे विभिन्‍न राजमार्गों, मेट्रो और जलमार्गों से विशेषकर विनिर्माण, निर्माण और सेवा क्षेत्रों में रोजगार अवसर सृजित होंगे। उन्‍होंने इस बात का भी उल्‍लेख किया कि वर्तमान में प्रतिदिन 27 किलोमीटर लंबे राजमार्गों का निर्माण किया जा रहा है, जबकि वर्ष 2014 में राजमार्ग निर्माण का यह दैनिक आंकड़ा 12 किलोमीटर ही था। उन्‍होंने कहा कि यह भारत में व्‍यापक बदलाव लाने संबंधी केन्‍द्र सरकार के विजन एवं दृढ़ इच्‍छा शक्‍ति को दर्शाता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार देश के युवाओं की आकांक्षाएं पूरी करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि श्री विश्‍वकर्मा कौशल विश्‍वविद्यालय युवाओं का कौशल बढ़ाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएगा जिससे कि वे नए अवसरों से लाभ उठा सकें।